जालंधर लोकसभा क्षेत्र के आगामी उप चुनाव के मद्देनजर लाइसैंसी शस्त्र जमा करने के लिए जिला स्तरीय स्क्रीनिंग कमेटी का गठन

by Sandeep Verma
0 comment
Trident AD

जालंधर ( एस के वर्मा ):  जालंधर लोकसभा क्षेत्र में होने वाले उपचुनाव को देखते हुए जिले में लाइसैंसी हथियार जमा करवाने के लिए जिला स्तरीय स्क्रीनिंग कमेटी का गठन किया गया है। इस कमेटी के चेयरमैन डिप्टी कमिश्नर जसप्रीत सिंह होगें। पुलिस कमिश्नर कुलदीप सिंह चहल, एस.एस.पी. जालंधर (ग्रामीण) स्वर्णदीप सिंह, अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर मेजर डा. अमित महाजन और एस.पी. (इनवैस्टीगेशन) सरबजीत सिंह सदस्य होंगे। जानकारी देते हुए डिप्टी कमिश्नर जसप्रीत सिंह ने बताया कि यह कमेटी भारतीय चुनाव आयोग की तरफ से जालंधर लोक सभा क्षेत्र के उप चुनाव की तारीख घोषित होने के बाद उस दिन से जांच का काम शुरू कर देगी ।उन्होंने कहा कि समीति सभी लाइसैंसधारकों के केसो की जांच करेगी, जिसमें जमानत पर रिहा हुए व्यक्तियों के लाइसैंस, आपराधिक रिर्काड रखने वाले व्यक्तियों के लाइसैंस और विशेषकर चुनाव दौरान दंगों में शामिल व्यक्तियों के लाइसैंस शामिल है। उन्होंने आगे कहा कि स्क्रीनिंग कमेटी से रिपोर्ट प्राप्त होने के बाद, लाइसैंसिंग अथारिटी व्यक्तिगत लाइसैंसधारक को अपने हथियार जमा करने के लिए उम्मीदवारी वापिस लेने की निर्धारित अंतिम तिथि से पहले नोटिस जारी करेगी और लाइसैंसधारक को सूचित करेगी कि यदि वे हथियार को जमा नहीं करते है, भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी ।लाइसैंसधारक को नोटिस की प्राप्ति/प्रकाशन से सात दिनों के भीतर हथियार जमा करवाने होगें और हथियार जमा करने के लिए लाइसैंसिंग अथारिटी की तरफ से लाइसैंसधारक को रसीद जारी की जाएगी। डिप्टी कमिश्नर ने आगे बताया कि जो खिलाड़ी विभिन्न स्तरों पर राष्ट्रीय राइफल संघ के सदस्य है और उन्हें विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं में भाग लेना है जिसमें वे अपनी राइफलों का उपयोग करते हैं, उन्हें प्रतिबंध से छूट दी जाएगी।उन्होंने कहा कि जिला स्तरीय स्क्रीनिंग समीति द्वारा लिया गया निर्णय अंतिम होगा। पोल डे मानिटरिंग सिस्टम को लागू करने के लिए तैनात नोडल अधिकारी/सहायक नोडल अधिकारी तैनात —आगामी जालंधर लोकसभा क्षेत्र उपचुनाव के दौरान जिले में मतदान दिवस निगरानी प्रणाली (पीडीएमएस) लागू करने के लिए चुनाव डियूटी पर तैनात नोडल अधिकारी/सहायक नोडल अधिकारी तैनात किए गए है। इस संबंध में जानकारी देते हुए डिप्टी कमिश्नर जसप्रीत सिंह ने बताया कि सैक्टर अधिकारियों से सीधे मोबाइल एप के माध्यम से मतदान दिवस की गतिविधियों की जानकारी प्राप्त करने के लिए रूपिंदर कौर ए.डी.आई.ओ. (एनआईसी जालंधर) को नोडल अधिकारी और हतिंदर मल्होत्रा को डीटीसी, नवप्रीत सिंह को डीईजीसी,प्रिया प्रोग्रामर को सहायक नोडल अधिकारी के तौर पर तैनात किया गया है।
यह अधिकारी/कर्मचारी एनआईसी, पंजाब से प्राप्त होने वाले कार्यक्रम के अनुसार पीडीएमएस से संबंधित गतिविधियां और समूह एआरओ से मतदान केंद्रों तक संचार डेटा तैयार करने के लिए जिम्मेदार होंगे।

Trident AD
Trident AD

You may also like

Leave a Comment

2022 The Trident News, A Media Company – All Right Reserved. Designed and Developed by iTree Network Solutions +91 94652 44786